Computer Ke Labh Aur Hani Essay In Hindi

Computer Essay in Hindi अर्थात इस आर्टिकल में हमने आपके लिए, कम्प्यूटर के महत्त्व पर एक एवं कम्प्यूटर के लाभ-हानियों पर एक निबंध दिया है, कुल दो निबंध हैं.

कम्प्यूटर आधुनिक विज्ञान का अद्‌भुत करिश्मा है, जिसने सारे विश्व को एक बार तो अपने आकर्षण में जकड़ लिया है । कोई वैज्ञानिक प्रतिष्ठान हो या औद्योगिक प्रतिष्ठान, बैंक हो या बीमा निगम, रेलवे स्टेशन हो या बस डिपो, सार्वजनिक स्थल हो या सेना का मुख्यालय-सभी जगह कम्प्यूटर का बोल-बाला है । यही आज के बुद्धिजीवियों के चिन्तन का विषय बन रहा है और यही स्कूल-कॉलेजों में विद्यार्थियों की रुचि का केन्द्र है । भारत तेजी से इसके माध्यम से इक्कीसवीं शताब्दी में प्रवेश -कर चुका है । हमारे नेता भी यह मानने लगे हैं कि बिना कम्प्यूटर के देश सर्वोम्मुखी विकास की ओर अग्रसर नहीं हो सकता । इसीलिए रेडियो, टी० वी० इसी विकसित अन्वेषण का उच्च स्वर में गुण-गान करने लगे हैं । अखबारें और पत्र-पत्रिकाएं इसी ‘ यश के गीत गाने लगे हैं ।

अब शिक्षा, .प्रशासनिक आदि सभी क्षेत्रों में कम्प्यूटर-प्रणाली को अविलम्ब प्राप्त करने की आवश्यकता अनुभव होने लगी है । मनुष्य की व्यस्तता विज्ञान की प्रगति के कारण चारों ओर ज्ञान का जो विस्फोट हो रहा है तथा विश्व के तीन शक्तिशाली देश जिस तेजी से सृष्टि को अपनी मुट्ठी में बन्द करने के लिए उन्मुख हैं, उस दृष्टि से प्रत्येक क्षेत्र में आगे बढ़ने, समृद्ध होने. और अपने देश की अखण्डता तथा प्रभुसत्ता की रक्षा के लिए कम्प्यूटर का प्रयोग आवश्यक ही नहीं अनिवार्य बन गया यह तो युद्ध- क्षेत्रों में भी प्रवेश पा चुका है । आधुनिक अस्त्र-शस्त्र भी कम्प्यूटर चलित हैं । इसका उपयोग लगभग सभी क्षेत्रों में -हो चुका है । इनमें कुछ क्षेत्र निम्नलिखित हैं-

वस्तुतः आज का समय कम्प्यूटरों का ही समय है । इनका जादू सबके सिर पर चढ़ कर बोल रहा है । इनसे जीवन आसान हुआ है और उसे नई गति और दिशा की प्राप्ति हुई है ।


कंप्यूटर के लाभ एवं हानियां

वर्तमान युग विज्ञान का युग है । विज्ञान ने मनुष्य को अनेक उपहार दिए हैं जिसने मनुष्य की दिशा ही बदल कर रख दी है । विज्ञान के अभाव में आज मानव जीवन की कल्पना ही नहीं कर सकता । विज्ञान आज मनुष्य की सबसे बड़ी भौतिक शक्ति है । कंप्यूटर भी विज्ञान की आधुनिक एवं प्रभावशाली देन है जिसके सहारे आज वह कृत्रिम मानव मस्तिष्क की भूमिका का निर्वाह कर रहा है । वैसे तो कंप्यूटर का इतिहास काफी प्राचीन है ।

कुछ लोगों का मानना है कि मानव ने लगभग 25000 वर्ष पहले वस्तुओं को गिनना सीखा होगा तभी से कंप्यूटर की नींव पड़ी होगी । वर्तमान कंप्यूटर डॉ. हरमन के प्रयासों का अति विकसित रूप है और इसका विकास निरंतर होता जा रहा है । वह दिन दूर नहीं जब भारत भी इस क्षेत्र में उन्नतिशील देशों की बराबरी करने लगेगा । हमारे देश में कंप्यूटर सन् 1961 ई. में आया । तब से लेकर आज तक हमने अनेक उन्नत देशों से कंप्यूटर मंगवाएं हैं ।

जापान, रूस, ब्रिटेन आदि देशों से प्राप्त जानकारी हमारे लिए काफी लाभदायक सिद्ध हुई है । अब हम स्वदेश में भी अनेक प्रकार के कंप्यूटर बनाने में सक्षम होते जा रहे हैं । अनेक प्रकार के कार्यों के लिए इसका सहारा लिया जा रहा है । बिजली के बिल, वेतन बिल, टिकट वितरण, बैंक के कार्यों के लिए कंप्यूटर का उपयोग निरंतर बढ़ता जा रहा है । छपाई के कार्य के लिए भी कंप्यूटर अत्यधिक लाभदायक सिद्ध हो रहा है । कई महीनों में होने वाला कार्य कुछ दिनों में ही कंप्यूटर की सहायता से हो जाता है ।  जीवन का कोई भी क्षेत्र कंप्यूटर से अछूता नहीं रह गया है ।

कंप्यूटर मशीनी मानव की तरह दिखता है । कंप्यूटर के कार्य का क्षेत्र बड़ा होने के कारण इसका ज्ञान होना बहुत जरूरी है । इसलिए स्कूलों में ही बच्चों को इसकी शिक्षा पर बल दिया जाता है । कंप्यूटर की सहायता से बच्चे अपने विषय से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं तथा उस विषय को अच्छे से समझ सकते हैं । इंटरनेट के द्वारा हम कहीं पर भी बैठकर विश्व के किसी भी देश या उसके संबंध में विस्तृत जानकारी प्राप्त कर सकते हैं । डॉक्टर भी बीमारियों का पता लगाने के लिए तथा उसकी जांच करने के लिए कंप्यूटर की मदद लेते हैं ।

बड़ी-बड़ी मशीनों, पुलों व यंत्रों की रूपरेखा बनाने में भी कंप्यूटर अहं भूमिका निभाता है । बैंकों या अन्य क्षेत्रों के अनेक प्रकार के रिकार्डों को फाइल में संभाले रखने से परेशान सभी मनुष्यों को कंप्यूटर मुक्ति दिलवाता है ।

आज विद्यार्थियों के प्रश्न पत्र इसी के माध्यम से तैयार किए जाते हैं तथा उत्तर पुस्तिकाएं भी इसी के माध्यम से जांची जाती हैं जिससे समय की भी बचत होती है तथा नतीजा भी जल्दी निकल आता है । भारत देश निर्धन देश है । हर वर्ष यहां लाखों लोग बेकारी की संख्या बढ़ाते हैं । बेरोजगारी दूर करने का उचित तरीका यही होगा कि अधिक से अधिक लोगों को नौकरी दी जाए, उन्हें देश की प्रगति में सहयोगी बनाया जा सके परन्तु कंप्यूटर का बहुक्षेत्रीय उपयोग मानव मस्तिष्क को पंगु बना रहा है तथा उससे अपने कार्यों में सहज प्रगति करते रहने की भावना में बाधा डालता है ।

पूर्ण अभ्यास होने पर कुछ ही घंटों में लोग लंबे -चौड़े हिसाब किताब कंप्यूटर की सहायता से कर डालते हैं । अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्रों में भी कंप्यूटर ने क्रांति ला दी है । कंप्यूटर के स्मृति भंडार में लाखों सूचनाएं तथा जानकारियां इकट्ठी की जा सकती हैं । अमेरिका की स्टारवार्स योजना कंप्यूटर के नियंत्रण पर ही आधारित है ।

पुलिस तथा सेना में कंप्यूटर के प्रयोग से अपराधियों का धरपकड़ करने में आसानी हुई है । कंप्यूटर मानव मस्तिष्क के असंख्य कार्य कर सकता है पर फिर भी मानवीय संवेदनाओं से रहित है । यह अच्छे- बुरे का भेद नहीं कराता तथा कोई निर्णय स्वयं नहीं ले सकता । मानव कंप्यूटर का गुलाम हो गया है ।

कंप्यूटर के प्रयोग के कारण भारत जैसे विकासशील देशों में बेकारी भी बढ़ गई है क्योंकि अकेला कंप्यूटर कई लोगों का काम कर देता है । कंप्यूटरीकरण आज समय की मांग बन चुका है । लेकिन जो देश निर्धनता, बेरोजगारी एवं आर्थिक संकट से .जूझ रहा हो उसके लिए कंप्यूटरीकरण उचित नहीं होगा । उस -देश को यह कार्यकाल तथा परिस्थितियों को देखकर करना चाहिए तभी हम कंप्यूटर से अनुकूल लाभ उठा सकते हैं ।


कंप्यूटर (नुक्ते बनाकर)

कम्प्यूटर क्या है? एक कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जो वांछित परिणाम उत्पन्न करने के लिए जानकारी प्राप्त करता है और प्रक्रिया करता है।

यह हमारे जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है हमारा जीवन कंप्यूटर और कम्प्यूटरीकृत सिस्टम के आसपास केंद्रित हो गया है

किसी कंप्यूटर के विभिन्न भागों : कंप्यूटर के विभिन्न भागों में सिस्टम इकाई, मॉनिटर, कीबोर्ड, इलेक्ट्रॉनिक माउस, प्रिंटर, स्पीकर, सीडी ड्राइव आदि शामिल हैं।

  1. सिस्टम यूनिट: सिस्टम यूनिटकंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है।सिस्टम यूनिट में सीपीयू (माइक्रोप्रोसेसर), हार्ड डिस्क, रैंडम एक्सेस मेमोरी (रैम), मदरबोर्ड आदि हैं।
  • सीपीयूजानकारी प्रक्रिया करता है
  • रैमअस्थायी जानकारी संग्रहीत करता है, जबकि सिस्टम चालू है जैसे ही सिस्टम बंद हो जाता है, उतना ही डेटा को हटा देगा।
  • हार्ड डिस्कसंग्रहित जानकारी हार्ड डिस्क पर संग्रहीत की जाती है।
  • मदर बोर्डकंप्यूटर की विभिन्न इकाइयों के बीच संचार और संपर्क की अनुमति देता है।
  1. मॉनिटर:यह जानकारी प्रदर्शित करता हैकैथोड रे ट्यूब (सीआरटी) मॉनिटर बहुत भारी हैं तरल क्रिस्टल डिस्प्ले (एलसीडी) मॉनिटर्स पतली और हल्की होती हैं।
  2. कुंजीपटल:कुंजीपटल के माध्यम से कंप्यूटर सिस्टम में अक्षरों और संख्याएं लगाई जाती हैं।
  3. माउस:यह कर्सर को इंगित करता है और स्क्रीन पर एक आइकन को चुनने में उपयोग किया जाता है।

कंप्यूटर सिस्टम के अन्य घटक में स्पीकर, मॉडेम, प्रिंटर आदि शामिल हैं।

लाभ

कंप्यूटर डेटा की बड़ी मात्रा को शीघ्रता से संसाधित कर सकते हैं कंप्यूटर अधिकांश कार्यों को अधिक प्रभावी ढंग से अधिक मानव-प्राणियों से पूरा कर सकते हैं। इसमें जटिल कार्यों को स्वचालित किया गया है जिन्हें एक बार मानवों के लिए उबाऊ और थकाऊ माना जाता था। इसलिए, कंप्यूटर ने बहुत सी कार्य करने के लिए हमारी दक्षता में बहुत वृद्धि की है। कंप्यूटर के फायदे नीचे दिए गए हैं:

  1. डिजिटल प्रारूप में स्टोर डेटा:कंप्यूटर डिजिटल प्रारूप में लाखों पृष्ठों की जानकारी संग्रहीत कर सकते हैं।
  2. विशाल भंडारण:हम बड़ी सूचना को स्टोर कर सकते हैं वर्तमान दिन हार्ड डिस्क 100 गीगाबाइट्स (जीबी) की जानकारी संग्रहीत कर सकते हैं। बड़े व्यवसाय अपने कंप्यूटर सिस्टम में अपने मार्केटिंग और बिक्री डेटा स्टोर करते हैं यहां तक ​​कि ग्राहकों के संवेदनशील डेटा को कम्प्यूटरीकृत वातावरण में सुरक्षित रूप से संरक्षित किया जाता है।
  3. गेम चलाएं:जब यह गेम की बात आती है, तो विकल्प लगभग असीमित होते हैं।
  4. गणना:व्यवसाय तेजी से स्प्रैडशीट्स और अन्य सॉफ़्टवेयर का उपयोग गणितीय गणनाओं के लिए एक उपकरण के रूप में कर रहे हैं।
  5. आधिकारिक दस्तावेज तैयार और संग्रहीत करें:आप किसी भी पाठ दस्तावेज़ को तैयार करने, संपादित करने और सहेजने के लिए वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर का उपयोग कर सकते हैं। कागज रहित कार्यालयों की अवधारणा अंततः अपना आकार ले रही है। एक्सेल- गणना
  6. प्रस्तुतियाँ:यदि आपके कार्यालय की मांग है कि आप प्रस्तुतिकरण तैयार करते हैं, तो आप इसे एक PowerPoint में तैयार कर सकते हैं।
  7. इंटरनेट:आप अपने कंप्यूटर को इंटरनेट से कनेक्ट कर सकते हैं और विशाल डेटा के माध्यम से ब्राउज़ कर सकते हैं। लोग विभिन्न प्रयोजनों के लिए इंटरनेट का उपयोग करते हैं छात्र अध्ययन सामग्री डाउनलोड करने के लिए इंटरनेट का उपयोग कर सकते हैं। एक शोध विश्लेषक इंटरनेट पर बाजार अनुसंधान कर सकता है एक विपणन व्यक्ति विभिन्न भौगोलिक सीमाओं में प्रासंगिक डेटा एकत्र कर सकता है। एक संभावित ग्राहक इंटरनेट पर एक सेवा प्रदाता ढूंढ सकता है।
  8. मल्टीमीडिया:कंप्यूटर को एक मनोरंजन उपकरण के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। हम संगीत, वीडियो, आदि जैसे विभिन्न मल्टीमीडिया अनुप्रयोगों को चला सकते हैं।
  9. खातों की पुस्तकें तैयार करें:लेखांकन सॉफ्टवेयर की मदद से, हम खातों की हमारी किताबें तैयार कर सकते हैं।
  10. कम लागत:कंप्यूटर की शुरूआत में कई जटिल कार्य करने के लिए लागत में कमी आई है।

नुकसान

यह सच है कि कंप्यूटर दोष से मुक्त नहीं है। कंप्यूटर का नुकसान नीचे दिया गया है:

  1. कभी-कभी प्रौद्योगिकी बदलना:आज जो नई तकनीक है, वह जल्द ही अप्रचलित हो सकती है। हमें कम्प्यूटरीकृत वातावरण में नियमित रूप से हार्डवेयर और सॉफ़्टवेयर को अपग्रेड करने की आवश्यकता है। इसमें अतिरिक्त समय और लागत शामिल है
  2. जनशक्ति लागत में वृद्धि:कंप्यूटर को कुशल व्यक्ति द्वारा संचालित किया जाना चाहिए। इससे संगठनों के लिए जनशक्ति लागत में वृद्धि हुई है। अंतर्निहित जोखिमों के कारण, विशाल व्यय को सुनिश्चित किया जाता है कि डेटा सुरक्षा सुनिश्चित की जाती है।
  3. कंप्यूटर प्रत्युत्तर देना बंद कर देता है:कभी-कभी कंप्यूटर का ऑपरेटिंग सिस्टम प्रत्युत्तर देना या कामकाज बंद कर सकता है। यद्यपि इस समस्या को आम तौर पर कंप्यूटर को पुनरारंभ करके हल किया जाता है, लेकिन कभी-कभी आपको तकनीशियन का समर्थन भी करना पड़ सकता है।
  4. वायरस:वायरस और मैलवेयर हमले का खतरा हमेशा कम्प्यूटरीकृत वातावरण में रहता है। इन जोखिमों का सामना करने के लिए, विभिन्न एंटी-वायरस सॉफ्टवेयर बाजार में उपलब्ध हैं। यदि आप एक अच्छा एंटीवायरस का उपयोग कर रहे हैं, तो आप लगभग निश्चित हैं कि आपकी निजी जानकारी और अन्य संवेदनशील डेटा सुरक्षित हैं
  5. रोजगार के अवसरों में कमी:कंप्यूटरों की शुरूआत ने कंप्यूटर के निरक्षर लोगों की रोजगार क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव डाला है।

और पढ़िए:


हमें पूरी आशा है कि आपको हमारा यह article बहुत ही अच्छा लगा होगा. यदि आपको इसमें कोई भी खामी लगे या आप अपना कोई सुझाव देना चाहें तो आप नीचे comment ज़रूर कीजिये. इसके इलावा आप अपना कोई भी विचार हमसे comment के ज़रिये साँझा करना मत भूलिए. इस blog post को अधिक से अधिक share कीजिये और यदि आप ऐसे ही और रोमांचिक articles, tutorials, guides, quotes, thoughts, slogans, stories इत्यादि कुछ भी हिन्दी में पढना चाहते हैं तो हमें subscribe ज़रूर कीजिये.



Filed Under: Essay | निबंधTagged With: about computer in hindi, about computer in hindi essay, advantages of computer in hindi, an essay on computer in hindi, anuched on computer in hindi, article on computer in hindi, computer aaj ki jarurat nibandh in hindi, computer and internet essay in hindi, computer essay hindi, computer essay in english, Computer Essay in Hindi, computer essay in hindi language, computer hindi, computer hindi essay, computer importance in hindi, computer in hindi, computer in hindi essay, computer ka mahatva, computer ka mahatva essay in hindi, computer ka mahatva in hindi essay, computer ki upyogita in hindi, computer nibandh, computer nibandh in hindi, computer par nibandh, computer paragraph in hindi, computer topic in hindi, eassy on computer, essay about computer, essay about computer in hindi, essay computer, essay computer in hindi, Essay in Hindi, essay in hindi on computer, essay of computer in hindi, essay of computer in hindi language, essay on computer, essay on computer in english, essay on computer in hindi, essay on computer in hindi font, essay on computer in hindi language, essay on computer in hindi language wikipedia, essay on computer ka mahatva in hindi, essay on importance of computer in hindi, essay on uses of computer in hindi, hindi essay computer, hindi essay on computer, hindi essay on computer importance, hindi essays on computer, hindi nibandh on computer, importance of computer essay, importance of computer essay in english, importance of computer essay in hindi, importance of computer in hindi, importance of computer in hindi language, my computer essay in hindi, nibandh in hindi on computer, nibandh on computer in hindi, paragraph on computer in hindi, paragraph on computer in hindi language, quotation on computer in hindi, short essay on computer in hindi, short paragraph on computer in hindi, speech on computer in hindi, uses of computer in hindi, what is computer in hindi, कम्प्यूटर का आधुनिक जीवन में महत्त्व, निबंध

कंप्यूटर के लाभ तथा हानियाँ

अथवा

जीवन में कंप्यूटर का महत्व

 

कंप्यूटर विज्ञान का एक ऐसा अविष्कार है जिसकी चर्चा सारे विश्व में हो रही है। कंप्यूटर विज्ञान की अदभुत देन है। कंप्यूटर की उपयोगिता को देखते हुए आज के युग को कंप्यूटर का युग कहा जाता है। आने वाले युग में सभी निर्णय कंप्यूटर ही करेगा तथा मनुष्य हाथ में हाथ धरे बैठा रहेगा। कंप्यूटर वास्तव में आज की सर्वाधिक आवश्यकता बन गया है। कंप्यूटर क्या है? यह प्रश्न सामने आता है। प्राचीन काल से ही मानव अंकगणित का प्रयोग करता आ रहा है। इसकी से लगभग चार हजार वर्ष पहले एक विधि ‘गणकपटल’ का तथा सरल तार समानांतर लगे होते थे और तारों के बीच गोल दाने होते थे ये गोल दाने तार के इस सिरे से उस सिरे तक सरला से खिसकाए जा सकते थे। आज भी यह गणक पटल छोटे बच्चों को गिनती या पहाड़े याद कराने के काम आता है।

कंप्यूटर को सबसे पहले चाल्र्स बैबज ने 1946 ई. में बनाया था। यह कप्यूटर का नाम एनिएक था। उसके बाद तो कंप्यूटर की अनेक पीढिय़ां आ चुकी हैं। वर्तमान युग कंप्यूटर का युग है। यह एक ऐसा यंत्र है जो बिजली की शक्ति से संचालित होता है। यह मानव मस्तिष्क से भी तीर्व गति से गणता तक कर सकता है।

जोड़, भाग, गुणा, घटा आदि के साथ-साथ लघुत्तम, महत्तम एंव प्रतिशत आदि अनेक गणनांए यह बड़ी तीव्र गति से कर सकता है। सुपर कंप्यूटर एक सैकंड में करोड़ों गणनांए कर सकता है।

आज अमेरिका, रूस, फ्रांस, जर्मनी, हॉलैंड, स्वीडन, ब्रिटेन आदि से इसे मानव मस्तिष्क का दर्जा मिल चुका है। भारत में भी कंप्यूटर विज्ञान का तीव्रता से विकास हो रहा है तथा हर क्षेत्र में उसकी सहायता लेकर कार्यक्षमता को बढ़ावा दिया जा रहा है।

इसके उपयोग कारखानों में कल पुर्जे बनाने, डाक डांटने, रेल मांर्ग संचालन तथा टिक बांटना, शिक्षा, मौसम की जानकारी, वैज्ञानिक अनुसंधान, अंतरिक्ष विज्ञान, परिवहन व्यवस्था, विमान परिवहन, चिकित्सा, व्यापार, वीडियो खेलख् मुद्रण के साथ बिलियर्ड और शतरंज आदि के खेल बखूबी से खेलता है।

हमारे देश में सबसे पहला कंप्यूटर सन 1961 ई. में आया था। तब से आज तक दूसरे देशों में काफी कंप्यूटर हमारे देश में आए और अब ये यहां भी बनाए जा रहे हैं। इस समय यहां पर हजारों की तादार में कंप्यूटर हमारी बहुत मदद कर रहे हैं। बिजली के बिल बनाने व भेजने में इनका उपयोग किया जा रहा है। बैंकों में इसका उपयोग काफी सफल रहा है। पर्चों को जांचने में भी इसका प्रयोग हो रहा है। संघ लोक सेवा आयोग की प्राथमिक परीक्षा देने के लिए विशेष किस्म की उत्तर शीटें दी जाती हैं। इन्हें सीधे कंप्यूटर में भेजकर परीक्षार्थी के अंक पता लगा जाते हैं। इसकी मदद से पुस्तकें महीनों के स्थान पर दिनों में तैयार हो जाती हैं। यह एक घंटे में 20 सहस्र उत्तर शीटों की जांच कर सकता है।

आज कंप्यूटर सभी क्षेत्रों में हमारी मदद कर रहा है। विद्यालयों में भी विद्यार्थियों को इसका शिक्षण दिया जा रहा है। टिकटों के आरक्षण, समान की देखभाल और विमान में काम पर लगाने तथा वायु परिवहन को सुचारू रूप से चलाने के लिए भी कंप्यूटर पर निर्भर है। आज कंप्यूटर मानव जीवन के लिए सबसे अधिक उपादेय है।

कंप्यूटर को मावन मस्तिष्क से श्रेष्ठ नहीं कहा जा सकता क्योंकि कंप्यूटर प्रणाली का जन्मदाता भी तो मानव-मस्तिष्क ही है। साथ ही मानव मस्तिष्क में जो चिंतन-क्षमता, अच्छे बुरे की परख तथ अनुभूति सामथ्र्य है, वह कंप्यूटर में नहीं है। मानव मस्तिष्क कंप्यूटर की भांति भावना शून्य नहीं है।

June 13, 2017evirtualguru_ajaygourHindi (Sr. Secondary), LanguagesNo CommentHindi Essay, Hindi essays

About evirtualguru_ajaygour

The main objective of this website is to provide quality study material to all students (from 1st to 12th class of any board) irrespective of their background as our motto is “Education for Everyone”. It is also a very good platform for teachers who want to share their valuable knowledge.

0 thoughts on “Computer Ke Labh Aur Hani Essay In Hindi”

    -->

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *